X


दृष्टि

मेरा दृष्टिकोण मेरे क्षेत्र, मेरे राज्‍य और मेरे देश के लोगों के आसपास केंद्रित है – ताकि इनका समुचित विकास हो।

मैं अपने क्षेत्र के लोगों को संभवत: अच्‍छे और बेहतरीन विकल्‍प मुहैया कराना चाहता हूं, जिससे अपने अनुकूल संभावनाओं की तलाश वे आसानी से कर लें। मैं मध्य प्रदेश को एक मॉडल राज्‍य बनाना चाहता हूं, जहां पर सभी का समुचित विकास हो, मैं भारत को ऐसे देश के रूप में देखना चाहता हूं जहां लोगों को समान अधिकार मिले और यह एकाधिकार के रास्‍ते पर ही निश्चित हो सकता है।

भारत के सभी क्षेत्रों के संपूर्ण विकास के लिए समानता की जरूरत है। मैं अनुभव करता हुं कि मेरे राज्‍य के कुछ हिस्सों में विकास के लिए बहुत गुंजाइश है और देश के मध्य में केंद्रित होने के कारण ,आज ये जहां हैं उससे भी कहीं अधिक मज़बूत स्थिति में हो सकते हैं। अपने राज्‍य मध्‍य प्रदेश को बेहतर स्थिति में लाने और अपने क्षेत्र के लोगों के विकास के लिए मैं अर्थव्‍यवस्‍था को बढ़ाने के लिए सभी तरह का प्रयास कर रहा हूं।

मेरा सपना एक ऐसे राष्‍ट्र बनाने का है जहां पर हर व्यक्ति के पास समान अधिकार हो, उनके अधिकार सुरक्षित हों और समाज में उनका आदर हो। इस तरह के राष्‍ट्र के निर्माण के लिए सभी को इसमें सक्रिय भूमिका निभाने की ज़रूरत है, और यह मेरा मानना है कि हर भारतीय को ये सुनिश्चित करना होगा कि हम मिलकर उन बुलंदियों को छू सकें जो की अपने आप में एक नया कीर्तिमान हो|

भारत की समृद्ध विरासत उसकी सबसे बड़ी ताकत है। दुनिया के लिए भारत के पास नये खोज, सीखने, आध्यात्मिकता और नैतिक मूल्‍यों का भंडार है। हमें इन विशेषताओं को बनाए रखना चाहिए, हमें विकसित दुनिया से सर्वोत्तम प्रथाओं को आत्मसात करना चाहिए। यह हमारे बुनियादी मूल्यों और हमारे लोकाचार बनाए रखने में मदद करेगा।

सादगी, समर्पण और किसी उद्देश्य के लिए प्रतिबद्धता वह है जिसका मैं समर्थन करता हूं। विचार विमर्श, उद्भावना और सपनों को हकीकत करना – ये वो आगे की मेरी सोच है जिनके लिए मेरे काम हमेशा प्रयत्‍नशील रहते हैं।

मैं नवीनीकरण में विश्‍वास रखता हूं, जो मेरे क्षेत्र के लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए उनमें परिवर्तन करने में प्रमुख भूमिका निभायेगा।इसलिए, मैं इस क्षेत्र में नाटकीय बदलाव के लिए नये मॉडल को देख रहा हूं। मेरा हमेशा यही प्रयास रहता है कि उनकी ज़रूरतों को पहचानकर उनकी पूर्ति करने की कोशिश करूं, क्‍योंकि यह एक लोक सेवक का काम है।

मैं यह कोशिश करता हूं और देखता हूं कि चौतरफा विकास से लिए बुनियादी विकास के साथ-सामाजिक विकास भी ज़रूरी है, इससे हमारे युवा बच्‍चे बहुमुखी होंगे और इससे उनको आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।

मेरा सभी कार्यकाल तीन मॉडलों के आसपास केंद्रित है: निजी क्षेत्र के साथ विकास, सरकारी योजनाओं के ज़रिये विकास, और इन दोनों के संयुक्‍त संयोजन से विकास, जो कि वास्‍तव में पीपीपी मॉडल है।

मेरी अभिलाषा अपने बीते और आज के प्रयासों द्वारा एक बेहतर कल को देखने की है, जो मेरा अभियान है और जिसे मैं लोक सेवा बुलाता हूं – जनसेवा